सुप्रीम कोर्ट का केजरीवाल के खिलाफ मानहानि का मामला खारिज करने से इंकार

नई दिल्ली: सर्वोच्च न्यायालय ने मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को झटका देते हुए उनके खिलाफ आपराधिक मानहानि का मामला अमान्य करने की याचिका खारिज कर दी। केजरीवाल पर आपराधिक मानहानि का मामला केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने दायर की है। केजरीवाल ने अपनी याचिका में कहा है कि जेटली ने दिल्ली उच्च न्यायालय में भी एक मुकदमा दायर किया है।

याचिका खारिज करते हुए खंडपीठ के न्यायमूर्ति पिनाकी चंद्र घोष और न्यायमूर्ति उदय उमेश ललित ने वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी से कहा कि ऐसा कोई कानून बताइए जिसमें यह प्रावधान हो कि आपराधिक और दीवानी मामले एक साथ नहीं चल सकते।


supreme court deny to dismiss defamation case against kejriwal


याचिका में तर्क दिया गया था कि उच्च न्यायालय के समक्ष दीवानी मामले की सुनवाई के परिणाम का अधीनस्थ अदालत में चल रहे आपराधिक मानहानि के मामले पर असर होगा। खंडपीठ ने पूछा कि क्या साक्ष्य अधिनियम में यह प्रावधान है कि दीवानी मामले में उच्च न्यायालय का फैसला आपराधिक मानहानि के मामले पर बाध्यकारी होगा।

आपराधिक मानहानि और मानहानि का मामला जेटली ने केजरीवाल के खिलाफ दायर किया है। केजरीवाल ने आरोप लगाया था कि जेटली ने राज्य क्रिकेट संघ में शीर्ष पद रहते हुए दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) में कई गड़बड़ियां की थीं।


 

Facebook Comments
177 Total Views 5 Views Today

Related Post

Leave a Reply