300 फीट ऊंची चट्टानें, 70 फीट चौड़ी है ये नहर, गुजरते हैं 11 हजार जहाज

यूनान में कोरिंथ की खाड़ी और सरोनिक की खाड़ी को मिलाने के लिए पहाड़ों को चीरकर 6.4 किमी लंबी कोरिंथ नहर बनाई गई थी। यह स्वेज और पनामा नहर की तरह मनुष्य की महान सफलताओं में से एक है।


विश्व की महत्वपूर्ण नहरों में इसका स्थान है। 1881 में निर्माण शुरू होकर 25 जुलाई 1893 के दिन पहली बार इसका इस्तेमाल किया गया। इस नहर को समय और ईंधन बचाने के लिए बनाया गया था। कुछ जगहों पर यह संकरी है, इसलिए जहाजों को खींचने के लिए नावें तैनात रहती हैं।

The Tightest Squeeze Corinth Canal Greece


इसका इस्तेमाल पर्यटन नौकाओं के लिए ज्यादा होता है। फिर भी साल में 11 हजार जहाज यहां से गुजरते हैं। इसकी चट्‌टानें 300 फीट ऊंची हैं। नहर का ऊपरी हिस्सा 81 फीट और निचला हिस्सा 70 फीट चौड़ा है।

The Tightest Squeeze Corinth Canal Greece


औसत 148 मीटर की ऊंचाई पर चट्‌टानों पर ट्रेन, बड़े वाहन और छोटे वाहन गुजरने के लिए तीन पुल बने हैं। नहर का ट्रैफिक वन-वे होने के कारण एक बार में एक ही जहाज को गुजरने की अनुमति दी जाती है, क्योंकि चट्‌टानों से भूस्खलन का खतरा भी होता है।

The Tightest Squeeze Corinth Canal Greece


The Tightest Squeeze Corinth Canal Greece


The Tightest Squeeze Corinth Canal Greece


The Tightest Squeeze Corinth Canal Greece


The Tightest Squeeze Corinth Canal Greece


 


 

Facebook Comments
1566 Total Views 5 Views Today

Related Post

Abhishek Mourya

ज़िंदगी का हिस्सा है लिखना, सुकून मिलता है. कभी पन्नों पर कभी चेहरों पर, जो पढ़ता हूं लिख देता हूं. अपना काम बस कलम से कमाल करने का हैं

Leave a Reply