WORLD CUP का आगाज: मेलबर्न में ढाई घंटे तक चलेगा उद्घाटन समारोह

आईसीसी विश्व कप पहला मुकाबला तो शनिवार को शुरू होगा, लेकिन इसका उद्घाटन गुरुवार को हो रहा है। विश्व कप के मेजबान दो देश हैं इसलिए उद्घाटन समारोह भी दो शहरों में होंगे। भारतीय समय के मुताबिक पहला समारोह न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में दोपहर दो बजे से होगा। इसके तीन घंटे बाद शाम पांच बजे से दूसरा समारोह ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में होगा। आईसीसी के मुताबिक उद्घाटन समारोह के सभी टिकट बिक चुके हैं। इसमें 14 देशों की विविधता भी दिखाई जाएगी। टूर्नामेंट जीतने वाली टीम को 24.7 करोड़ रुपए का इनाम दिया जाएगा।

उद्घाटन समारोह में अभिनय करेंगे फ्लेमिंग
न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान स्टीफन फ्लेमिंग भी उद्घाटन कार्यक्रम में थिएटर शो के दौरान अभिनय करते नजर आएंगे। उद्घाटन समारोह में न्यूजीलैंड के संगीत, नाट्य और सांस्कृतिक क्षेत्र के कई जाने-माने कलाकार अपने कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे। फ्लेमिंग एक प्रसिद्ध स्थानीय कलाकार के साथ एक युवा क्रिकेटर की कहानी पेश करेंगे, जो भविष्य में बड़ा खिलाड़ी बनना चाहता है। फ्लेमिंग ने कहा, “यह योजना काफी आकर्षक नजर आ रही है। मैं कोशिश करूंगा कि कार्यक्रम में मेरी प्रस्तुति अच्छी हो।” समारोह का समापन क्राइस्टचर्च में आतिशबाजी के साथ होगा।
मेलबर्न : ढाई घंटे तक चलेगा उद्घाटन कार्यक्रम
मेलबर्न में लगभग ढाई घंटे तक रंगारंग कार्यक्रम चलेगा। इस कार्यक्रम का प्रमुख आकर्षण
‘सिडनी की मेइर म्यूजिक बाउल’ टीम है। ‘सिडनी की मेइर म्यूजिक बाउल’ टीम के सिंगर, डांसर और आर्टिस्ट वर्ल्ड कप उद्घाटन समारोह में हिस्सा ले रहे 14 देशों की झांकी पेश करेंगे।
90,000 लोगों की उपस्थिति
मीडिया सूत्रों के अनुसार, वर्ल्ड कप उद्घाटन कार्यक्रम के बाद 14 फरवरी को होने वाले ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच पहले मैच को देखने के लिए 90,000 दर्शक उपस्थित रहेंगे।
4 देशों के कप्तान न्यूजीलैंड में और 10 देश के कप्तान होंगे ऑस्ट्रेलिया में
न्यूजीलैंड : मेजबान न्यूजीलैंड, श्रीलंका, साउथ अफ्रीका, जिम्बाब्वे।
ऑस्ट्रेलिया : मेजबान ऑस्ट्रेलिया, भारत, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, यूएई, इंग्लैंड, वेस्ट इंडीज, हॉन्गकॉन्ग, आयरलैंड, स्कॉटलैंड।
पहला मैच न्यूजीलैंड-श्रीलंका के बीच
वर्ल्ड कप के मुख्य मुकाबले शनिवार से शुरू होंगे। पहला मुकाबला न्यूजीलैंड और श्रीलंका के बीच क्राइस्टचर्च में होगा। दूसरा मैच ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच मेलबर्न में खेला जाएगा। रविवार को सुबह नौ बजे से भारत-पाकिस्तान के बीच मुकाबला होगा। इस मैच के सारे टिकट बिक चुके हैं।
चैम्पियन को 24.7, रनर अप को 10.3 करोड़
* 24.7 करोड़ रुपए की इनामी राशि मिलेगी चैम्पियन को।
* 10.3 करोड़ रुपए की इनामी राशि मिलेगी उपविजेता को।
* 3.6 करोड़ रु. मिलेंगे सेमीफाइनल हारने वाले को।
* 1.8 करोड़ रु. मिलेंगे सेमीफाइनल हारने वाले को।
* 27 लाख रु. मिलेंगे ग्रुप स्तर पर हर मैच जीतने पर।
* 22 लाख रु. मिलेंगे ग्रुप स्तर से बाहर होने वाली टीम को।
मेजबानी FACTS
* 14 टीम
* 14 मैदान
* 44 दिन
* 49 मैच
* 23 साल बाद ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड कर रहे मेजबानी। इससे पहले 1992 में इन दोनों देशों ने क्रिकेट की मेजबानी की थी।
तीन मैच जीतकर आखिरी आठ में पहुंच सकता है भारत
वर्ल्ड कप से ठीक पहले ऑस्ट्रेलिया में तीन देशों की वनडे सीरीज में मिली हार के बाद टीम इंडिया के प्रशंसक काफी निराश हैं। लेकिन पिछले चैंपियन भारतीय टीम को चुका हुआ नहीं मान सकते। इसी धोनी ब्रिगेड ने 2011 वर्ल्ड कप जीतने के बाद से अब तक चार वर्षों 99 मैचों में सर्वाधिक 57 मैच जीता है। इसी दौरान 2013 में टीम इंडिया ने इंग्लैंड की धरती पर आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में अजेय रहते हुए खिताबी जीत हासिल किया। अब 2015 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया पर उम्मीदों का बोझ है। अगर टीम इंडिया अपनी लय में लौटी तो उसके लिए खिताबी सफर मुश्किल नहीं होगा।

* 14 फरवरी : न्यूजीलैंड vs श्रीलंका
* 14 फरवरी : ऑस्ट्रेलिया vs इंग्लैंड
* 15 फरवरी : साउथ अफ्रीका vs जिम्बाब्वे
* 15 फरवरी : इंडिया vs पाकिस्तान
* 16 फरवरी : आयरलैंड vs वेस्ट इंडीज
* 17 फरवरी : न्यूजीलैंड vs स्कॉटलैंड
* 18 फरवरी : अफगानिस्तान vs बांग्लादेश
* 19 फरवरी : यूनाइटेड अरब अमीरात vs जिम्बाब्वे
* 20 फरवरी : न्यूजीलैंड vs इंग्लैंड
* 21 फरवरी : पाकिस्तान vs न्यूजीलैंड
* 21 फरवरी : ऑस्ट्रेलिया vs बांग्लादेश
* 22 फरवरी : अफगानिस्तान vs श्रीलंका
* 22 फरवरी : इंडिया vs साउथ अफ्रीका
* 23 फरवरी : इंग्लैंड vs स्कॉटलैंड
* 24 फरवरी : वेस्ट इंडीज vs जिम्बाब्वे
* 25 फरवरी : आयरलैंड vs यूनाइटेड अरब अमीरात
* 26 फरवरी : अफगानिस्तान vs स्कॉटलैंड
* 26 फरवरी : बांग्लादेश vs श्रीलंका
* 27 फरवरी : साउथ अफ्रीका vs वेस्ट इंडीज
* 28 फरवरी : न्यूजीलैंड vs ऑस्ट्रेलिया
* 28 फरवरी : इंडिया vs यूनाइटेड अरब अमीरात
* 1 मार्च : इंग्लैंड vs श्रीलंका
* 1 मार्च : पाकिस्तान vs जिम्बाब्वे
* 3 मार्च : आयरलैंड vs साउथ अफ्रीका
* 4 मार्च : पाकिस्तान vs यूनाइटेड अरब अमीरात
* 4 मार्च : ऑस्ट्रेलिया vs अफगानिस्तान
* 5 मार्च : बांग्लादेश vs स्कॉटलैंड
* 6 मार्च : इंडियाvs वेस्ट इंडीज
* 7 मार्च : पाकिस्तान vs साउथ अफ्रीका
* 7 मार्च : आयरलैंड vs जिम्बाब्वे
* 8 मार्च : ऑस्ट्रेलिया vs श्रीलंका
* 9 मार्च : इंग्लैंड vs बांग्लादेश
* 10 मार्च : इंडिया vs आयरलैंड
* 11 मार्च : स्कॉटलैंड vs श्रीलंका
* 12 मार्च : साउथ अफ्रीका vs यूनाइटेड अरब अमीरात
* 13 मार्च : न्यूजीलैंड vs बांग्लादेश
* 13 मार्च : अफगानिस्तान vs इंग्लैंड
* 14 मार्च : इंडिया vs जिम्बाब्वे
* 14 मार्च : ऑस्ट्रेलिया vs स्कॉटलैंड
* 15 मार्च : यूनाइटेड अरब अमीरात vs वेस्ट इंडीज
* 15 मार्च : आयरलैंड vs पाकिस्तान
* 18 मार्च : पहला क्वार्टर फाइनल
* 19 मार्च : दूसरा क्वार्टर फाइनल
* 20 मार्च : तीसरा क्वार्टर फाइनल
* 21 मार्च : चौथा क्वार्टर फाइनल
* 24 मार्च : पहला सेमीफाइनल
* 26 मार्च : दूसरा सेमीफाइनल
* 29 मार्च : फाइनल
* 15 फरवरी को पाकिस्तान
* 22 फरवरी को दक्षिण अफ्रीका
* 28 फरवरी को यूएई
* 06 मार्च को वेस्ट इंडीज
* 10 मार्च को आयरलैंड
* 14 मार्च को जिम्बाब्वे
-यूएई, आयरलैंड और जिम्बाब्वे को हराकर भारत पहुंच सकता है क्वॉर्टर फाइनल में।
इनमें से एक से होगा भारत का सामना
* ऑस्ट्रेलिया : घरेलू मैदान पर मुसीबत बन सकता है। 4 बार का वर्ल्ड चैम्पियन है। फॉर्म में भी है।
* श्रीलंका : भारत की बड़ी चुनौती। पिछली बार फाइनल में हारा था। बदले के लिए उतरेगा।
* इंग्लैंड : अभी तक वर्ल्ड कप नहीं जीता, लेकिन 3 बार फाइनल में पहुंच चुका है।
-2011 में क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को हराकर ही भारत सेमीफाइनल में पहुंचा था।
दो टीमें ही अपने-अपने खिताब की रक्षा कर पाई हैं
1979 में वेस्ट इंडीज और 2003 2007 में ऑस्ट्रेलिया। एशियाई टीमें भारत, पाक श्रीलंका पिछले चैम्पियन के तौर पर खेलते हुए कभी खिताब नहीं जीत पाईं।
टीम का मजबूत होना चैम्पियन बनने का मापदंड नहीं है। इस आधार पर तो दक्षिण अफ्रीका के खाते में भी वर्ल्ड कप खिताब होना चाहिए। 1975 और 1979 की फिसड्डी टीम भारत 1983 में चैंपियन बनी। 1992 की पाकिस्तान टीम भी कोई मजबूत टीम नहीं थी, फिर भी यह टीम विश्व कप विजेता बनी।
…कुछ भी हो सकता है
1996 वर्ल्ड कप के ग्रुप मैच में केन्या ने वेस्ट इंडीज को हरा दिया था। 2007 में आयरलैंड ने ग्रुप मैच में पाक को मात दी और उसी दिन बांग्लादेश ने भारत को शिकस्त दी थी। उधर, 1983 और में खिताब दिलाने और 2003 में फाइनल में पहुंचाने वाले हमारे गेंदबाज भी बिल्कुल युवा थे।
2011 का रोमांच : सभी ने खारिज कर दिया था, तब पहुंचे थे फाइनल में
* दक्षिण अफ्रीका, जिम्बाब्वे और केन्या में संयुक्त रूप से आयोजित 2003 वर्ल्ड में हमारी तैयारी अच्छी नहीं रही थी, क्योंकि 2002 में न्यूजीलैंड दौरे पर हमने टेस्ट सीरीज 0-2 से और वनडे सीरीज 2-5 से गंवा दी थे। 7 वनडे सीरीज के आखिरी तीन मैच में सचिन का स्कोर 0-1-1 रहा। तब मजाक के तौर पर कहा गया था कि यह भारत का डायल कोड 011 है। लेकिन सचिन ने उस वर्ल्ड कप में 673 रन बनाए, जो आज भी किसी एक वर्ल्ड कप में बनाए गए सर्वाधिक रनों का रिकॉर्ड है।
* हालांकि, नीदरलैंड के खिलाफ पहला मैच हमने जीता, लेकिन पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम 204 पर ही सिमट गई थी। अगले मैच में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया से 9 विकेट से हारी। टीम 125 के साधारण स्कोर पर आउट हो गई। मो. कैफ के घर पर क्रिकेट प्रेमियों ने उपद्रव किया है। मीडिया से टीम इंडिया का अच्छे प्रदर्शन का वादा करना पड़ा।
Facebook Comments
288 Total Views 3 Views Today

Related Post

Abhishek Mourya

ज़िंदगी का हिस्सा है लिखना, सुकून मिलता है. कभी पन्नों पर कभी चेहरों पर, जो पढ़ता हूं लिख देता हूं. अपना काम बस कलम से कमाल करने का हैं

Leave a Reply